ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष पुजा विधि एवं कथा । skanda sashti puja vidhi

ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष के षष्ठी को विधिपूर्वक सुर्यदेव की पूजा करें। सुर्यदेव की कृपा से मनुष्य को मनोवाञ्छित भोग की प्राप्ति होती है। ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष षष्ठी १८ जून (सोमवार) २०१८ को है।